लुट गए Lut Gaye Lyrics in Hindi - Jubin Nautiyal

Lut Gaye Song is a very beautiful romantic and popular hindi song starring Emraan Hashmi and Yukti Thareja, sung by Jubin Nautiyal. Lut Gaye Lyrics are written by Manoj Muntashir while the music has been Composed by Tanishk Bagchi.

Lut Gaye Lyrics in Hindi, Jubin Nautiyal, Hindi Songs Lyrics

Lut Gaye Lyrics in English

Maine jab dekha tha tujhko
Raat bhi woh yaad hai mujhko
Taare ginte ginte so gaya

Dil mera dhadka tha kass ke
Kuch kaha tha tune hans ke
Main usi pal tera ho gaya

Aasmano pe jo khuda hai
Us'se meri yehi dua hai
Chaand yeh har roz main dekhun
Tere sath mein

Aankh uthi mohabbat ne angdayi li
Dil ka sauda hua chandni raat mein
Ho teri nazron ne kuch aisa jaadu kiya
Lut gaye hum to pehli mulakaat mein
Ho aankh uthi..

Paanv rakhna na zameen par
Jaan ruk ja tu ghadi bhar
Thode taare to bichha doon
Main tere vaaste

Aazma le mujhko yaara
Tu zara sa kar ishara
Dil jala ke jagmaga doon
Main tere raaste

Mere jaisa ishq mein pagal
Phir mile ya na mile kal
Sochna kya hath yeh de de
Mere hath mein

Aankh uthi mohabbat ne angdayi li
Dil ka sauda hua chandni raat mein
Ho teri nazron ne kuch aisa jaadu kiya
Lut gaye hum to pehli mulakaat mein
Ho aankh uthi

Haan kisse mohabbat ke
Hain jo kitaabon mein
Sab chahta hoon main
Sang tere dohrana

Kitna zaroori hai
Ab meri khatir tu
Mushqil hai mushqil hai
Lafzon mein keh paana

Ab to yeh aalam hai
Tu jaan maange to
Main shauk se de doon
Saughaat mein

Aankh uthi mohabbat ne angdayi li
Dil ka sauda hua chandni raat mein
Ho teri nazron ne kuch aisa jaadu kiya
Lut gaye hum to pehli mulakaat mein
Ho aankh uthi


लुट गए Lut Gaye Lyrics in Hindi

मैंने जब देखा था तुझको
रात भी वो याद है मुझको
तारे गिनते-गिनते सो गया

दिल मेरा धड़का था कसके
कुछ कहा था तूने हँसके
मैं उसी पल तेरा हो गया

आसमानों में जो खुदा है
उसे मेरी यही दुआ है
चाँद ये हर रोज मैं देखूं
तेरे साथ में

आँख उठी मोहब्बत ने अंगडाई ली
दिल का सौदा हुआ चांदनी रात में
ओ तेरी नज़रों ने कुछ ऐसा जादू किया
लुट गए हम तो पहली मुलाकात में
हो आँख उठी

पाँव रखना ना ज़मीं पर
जान रुक जा तू घड़ी भर
थोड़े तारे मैं बिछा दूँ
मैं तेरे वास्ते

आजमा ले मुझको यारा
तू जरा सा कर इशारा
दिल जलाके जगमगा दूँ
मैं तेरे रास्ते

हाँ मेरे जैसा इश्क में पागल
फिर मिले या ना मिले कल
सोचना क्या ये हाथ दे दे
मेरे हाथ में

आँख उठी मोहब्बत ने अंगडाई ली
दिल का सौदा हुआ चांदनी रात में
ओ तेरी नज़रों ने कुछ ऐसा जादू किया
लुट गए हम तो पहली मुलाकात में
ओ आँख उठी

हाँ किस्से मोहब्बत के
हैं जो किताबों में
सब चाहता हूँ मैं
संग तेरे दोहराना

कितना जरुरी है
अब मेरी खातिर तू
मुश्किल है मुश्किल है
लफ़्ज़ों में कह पाना

अब तो ये आलम है
तू जान मांगे तो
मैं शोक से दे दूँ
सौगात में

आँख उठी मोहब्बत ने अंगडाई ली
दिल का सौदा हुआ चांदनी रात में
ओ तेरी नज़रों ने कुछ ऐसा जादू किया
लुट गए हम तो पहली मुलाकात में
ओ आँख उठी


More from Jubin Nautiyal

Post a Comment

0 Comments